Scheme Approvals

 

  1. Animal Husbandry
  2. Dairy
  3. Fisheries
SL Date Description
1.17-07-2018पत्रांक 2311: वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल रुपये 200.00 लाख (दो करोड़) मात्र की अनुमानित लागत पर राज्य स्कीम के तहत राज्य में स्थापित 87 गोशालाओ में से कार्यरत चयनित 10 (दस) गोशालाओं को प्रति गोशाला अधिकतम रू 20.00 लाख (बीस लाख) मात्र अनुदान देकर मॉडल गोशाला के रूप में विकसित करने की योजना की स्वीकृति.
2.26-06-2018पत्रांक 2035: वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल रूपये 105.99 लाख (रू एक करोड़ पांच लाख निन्यानवे हजार) मात्र की लागत व्यय पर राज्य स्कीम के अंतर्गत गव्य विकास से संबंधित कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार हेतु योजना की स्वीकृति.
3.12-06-2018पत्रांक 1883: वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल रुपये 1,616.44 लाख मात्र की अनुमानित लागत व्यय पर राज्य स्कीम के तहत दुग्ध उत्पादकों को संतुलित पशु आहार पर प्रति किलो 2/- रुपये मात्र की दर से तीन माह अर्थात मई 2018 से जुलाई 2018 तक के लिए अनुदान उपलब्ध कराने की योजना की स्वीकृति.
4.04-06-2018पत्रांक 1819: वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल रूपये 399.99782 लाख मात्र की लागत व्यय पर राज्य योजना अन्तर्गत चालित प्रशिक्षण (सामान्य) की योजना की स्वीकृति.
5.23-03-2018ज्ञापांक 506: वितीय वर्ष 2017-18 में जिला गव्य पदाधिकारी, मुंगेर को विभागीय राज्यादेश संख्या-2891, दिनांक 01.09.2017 द्वारा मांग संख्या-02 अंतर्गत मुख्यशीर्ष 2404-डेरी विकास योजनाएँ के अधीन विभिन्न उप-मुख्यशीर्षों के तहत बाछी पालन योजना (अनुसूचित जाति) के लिए आवंटित राशि 17,60,000/- (सत्रह लाख साठ हजार) मात्र की अग्रिम निकासी की स्वीकृति के संबंध में.
6.23-03-2018ज्ञापांक 505: वित्तीय वर्ष 2017-18 में जिला गव्य पदाधिकारी, मुंगेर को विभागीय राज्यादेश संख्या-2889,दिनांक 01.09.2017 द्वारा मांग संख्या-02 अंतर्गत (1) मुख्यशीर्ष 2404-डेरी विकास, उपमुख्यशीर्ष-00, लघुशीर्ष 789-अनुसूचित जातियों के लिए विशेष घटक योजना, उपशीर्ष 0101-ग्रामीण डेरी रोजगार योजनायें, विपत्र कोड 02-2404007890101 के विषय शीर्ष 3301-सब्सिडी में समग्र गव्य विकास योजना (अनुसूचित जाति) के लिए आवंटित राशि 64,16,708/- मात्र तथा (2) मुख्यशीर्ष 2404-डेरी विकास, उप मुख्यशीर्ष-00, लघुशीर्ष 796-जनजातीय क्षेत्र उप योजना, उपशीर्ष 0101-प्रशिक्षण एवं विस्तार, विपत्र कोड 02-2404007960101 के विषयशीर्ष 3301-सब्सिडी में समग्र गव्य योजना (अनुसूचित जनजाति ) के लिए आवंटित राशि 4,94,620/- मात्र की अंग्रिम निकासी की स्वीकृति के संबंध में.
7.23-03-2018ज्ञापांक 504: वितीय वर्ष 2017-18 में जिला गव्य पदाधिकारी, मुंगेर को विभागीय राज्यादेश संख्या-3029, दिनांक 13.09.2017 द्वारा मुख्यशीर्ष 2404-डेरी विकास, उप-मुख्यशीर्ष-00, लघु शीर्ष 102-डेरी विकास परियोजनाएँ, उपशीर्ष 0115-गव्य प्रक्षेत्र की योजनाएँ, विपत्रकोड 02-2404001020115, माँग संख्या-02 अंतर्गत विषयशीर्ष 3301-सव्सिडी में समग्र गव्य विकास योजना (सामान्य) के तहत आवंटित राशि कुल रूपये 1,72,06,000/- (एक करोड़ बहत्तर लाख छः हजार) मात्र की अग्रिम निकासी की स्वीकृति के संबंध में.
8.30-01-2018पत्रांक 342: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रुपये 326.64 लाख मात्र की अनुमानित लागत व्यय पर केन्द्र प्रायोजित योजना National Mission in Bovine Productivity के अंतर्गत राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत बिहार पशुधन विकास अभिकरण (BLDA) पटना के माध्यम से कार्यान्वयन हेतु पशु संजीवनी योजना की स्वीकृति.
9.23-10-2017पत्रांक 3380: वित्तीय वर्ष 2017-18 में केन्द्रीय क्षेत्र स्किम (केन्द्रांश स्थापना 50%, केन्द्रांश अन्यान्य मद 100 % तथा राज्यांश स्थापना 50%) के अंतर्गत कार्यरत एकीकृत न्यादर्श सर्वेक्षण परियोजना द्वारा बिहार राज्य में दुग्ध, अंडा, मांस एवं ऊन उत्पादन का अनुमान लगाने की योजना का कुल रु 155.00 लाख (एक करोड़ पचपन लाख) मात्र की अनुमानित लागत पर पद सहित योजना की अवधि विस्तार की स्वीकृति.
10.17-10-2017पत्रांक 3355: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रू 21.3060 करोड़ मात्र की अनुमानित लागत व्यय पर राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत नये दुग्ध उत्पादक सहयोग समितियों का गठन, बंद पड़े दुग्ध उत्पादक सहयोग समितियों को पुनः चालू करना, डेयरी प्लांटों का सुदृढ़ीकरण तथा अनुश्रवण एवं मूल्यांकन की योजना की स्वीकृति.
11.13-09-2017पत्रांक 3029: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रू 2717.78 लाख मात्र की अनुमानित लागत व्यय पर राज्य योजनान्तर्गत राज्य में समग्र गव्य विकास योजना के तहत सामान्य वर्गो के लिए दुधारू मवेशी की डेयरी इकाई की स्थापना, मिल्किंग मशीन/ मिल्को टेस्टर/ बल्क मिल्क कूलर (5000 ली. क्षमता तक) तथा Indigenous दुग्ध उत्पादन के निर्माण हेतु दुग्ध प्रसंस्करण संयंत्र स्थापित करने हेतु सब्सिडी के रूप में अनुदान पर होने वाले व्यय की स्वीकृति.
12.01-09-2017पत्रांक 2891: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रुपये 1,337.60 लाख मात्र की अनुमानित लागत पर राज्य योजना अंतर्गत राज्य में समग्र गव्य विकास योजना के तहत सभी वर्गों के लिये 5, 10, 15 एवं 20 बाछी पालन की अंतर्गत इकाई स्थापित करने हेतु सब्सिडी के रूप में अनुदान पर होने वाले व्यय की स्वीकृति.
13.01-09-2017पत्रांक 2889: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रुपये 1,026.90036 लाख मात्र की अनुमानित लागत पर राज्य योजना अंतर्गत राज्य में समग्र गव्य विकास योजना अंतर्गत अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए विशेष घटक योजना के तहत 2 एवं 4 दुधारू मवेशी की डेयरी इकाई की स्थापना हेतु सब्सिडी के रूप में अनुदान पर होने वाले व्यय की स्वीकृति.
14.28-08-2017पत्रांक 2804: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रू 19.293319 करोड़ मात्र की अनुमानित लागत व्यय पर भारत सरकार द्वारा संचालित डेयरी उद्यमिता विकास योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु राज्य योजना से सामान्य वर्ग के लिए 25 प्रतिशत एवं अनुसूचित जाति/जन जाति के लिए 33.33 प्रतिशत अतिरिक्त (टॉप-अप) सब्सिडी के रूप में अनुदान की योजना की स्वीकृति.
15.07-07-2017पत्रांक 2166: वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल रूपये 60.3675 लाख मात्र की अनुमानित लागत पर राज्य योजनान्तर्गत अनुसूचीत जातियों के लिए विशेष घटक योजना के तहत अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के सदस्यों को गव्य विज्ञान में दिये जाने वाले प्रशिक्षण योजना की स्वीकृति.
16.20-12-2016शुद्धि-पत्र 3783: विभागीय राज्यादेश संख्या 2977 दिनांक 27.09.2016 की कंडिका-6 में किए गए संशोधन से संबंधित.
17.13-12-2016पत्रांक 3703: वित्तीय वर्ष 2016-17 में केंद्रीय योजनागत योजना (केन्द्रांश स्थापना 50%, केन्द्रांश अन्यान्य मद -100 % तथा राज्यांश स्थापना 50%) के अंतर्गत कार्यरत एकीकृत न्यादर्श सर्वेक्षण परियोजना द्वारा बिहार राज्य में दुग्ध, अंडा, मांस एवं ऊन उत्पादन का अनुमान लगाने की योजना का कुल 174 लाख रूपये मात्र की अनुमानित लागत पर पद सहित योजना की अवधि विस्तार की स्वीकृति.
18.14-06-2016पत्रांक 1827: वित्तीय वर्ष 2016-17 में कुल रूपये 69.0135 लाख (कुल रूपये उन्नतर लाख एक हजार तीन सौ पचास) मात्र की अनुमानित लागत पर राज्य योजनान्तर्गत अनुसूचीत जातियों के लिए विशेष घटक योजना के तहत अनुसूचीत जाति/अनुसूचीत जन जाति के सदस्यों को गव्य विज्ञान में दिये जाने वाले प्रशिक्षण योजना की स्वीकृति.
19.14-06-2016पत्रांक 1826: वित्तीय वर्ष 2016-17 में कुल रु 150.99852 लाख (कुल रु एक करोड़ पचास लाख निनानवे हजार आठ सौ बावन) मात्र की लागत पर राज्य योजनान्तर्गत चालित प्रशिक्षण (सामान्य) की योजना की स्वीकृति.
20.16-02-2016पत्रांक 0000: पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग (गव्य विकास निदेशालय), बिहार, पटना - समग्र गव्य विकास योजना (प्रोजेक्ट रिपोर्ट) - वित्तीय वर्ष 2015-16.
21.10-02-2016पत्रांक 0499: वित्तीय वर्ष 2015-16 में कुल रू 3.00 करोड़ मात्र की अनुमानित लागत पर व्यय पर शत-प्रतिशत केंद्रीय योजनागत -योजना के तहत नेशनल प्लान फॉर डेयरी डेवलपमेंट अंतर्गत राज्य के 14 जिलों यथा फेज-VII अन्तर्गत सारण, शेखपुरा, खगड़िया एवं दरभंगा, फेज-VIII अन्तर्गत भोजपुर, बक्सर, रोहतास एवं कैमूर तथा फेज- IX अन्तर्गत सीतामढी, पूर्वी एवं पश्चिमी चम्पारण, शिवहर, गोपालगंज एवं सीवान में समेकित गव्य विकास कार्यक्रम की योजना का क्रियान्वयन काम्फेड, पटना के माध्यम से क्रियान्वित करने की स्वीकृति.
22.25-01-2016पत्रांक 0281: वित्तीय वर्ष 2015-16 में राज्य योजना अंतर्गत राज्य में समग्र गव्य विकास योजना के तहत राज्य के सभी वर्गों के कृषकों/बेरोजगार युवक-युवतियों के लिए स्वरोजगार के सृजन हेतु 2 एवं 5 दुधारू मवेशियों की डेयरी इकाई की स्थापना पर कुल 61.67757 करोड़ रूपये मात्र अनुदान के रूप में व्यय करने की स्वीकृति.
23.26-11-2015पत्रांक 4061: वित्तीय वर्ष 2015-16 में कुल 23.99 करोड़ रुपये मात्र की लागत पर राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत दुग्ध समितियों का गठन, स्वचालित दुग्ध संग्रहण केंद्र की स्थापना, दुग्ध एवं दुग्धजन्य उत्पादों की जाँच हेतु प्रयोगशाला का सुदृढ़ीकरण, चीज पैकिंग मशीन की स्थापना, दुग्ध संग्रहण केंद्र का निर्माण, स्वचालित मिल्किंग मशीन की स्थापना तथा योजनाओ के अनुश्रवण एवं मुल्यांकन की योजना की स्वीकृति.
24.26-11-2015पत्रांक 4060: वित्तीय वर्ष 2015-16 में कुल 2,125.53 लाख रूपये मात्र की लागत पर राज्य योजना अन्तर्गत अनुसूचित जाति/जनजातियों के मत्स्यपालकों को मत्स्य पालन के लिए प्रोत्साहित करने हेतु विशेष घटक योजनान्तर्गत नर्सरी तालाब निर्माण तथा ट्यूबवेल एवं पम्प सेट अधिष्ठापन की योजना की स्वीकृति.

Top